महात्मा ज्योतिबा फुले जी की 194वीं जयंती बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनायी

हुसैनपुर (समाज वीकली) (कौड़ा) –ओ बी सी रेलवे एम्प्लाइज एसोसिएशन, रेल डिब्बा कारखाना, कपूरथला द्वारा महान समाज सुधारक, समता और मानवता के प्रबल पक्षधर, महिला शिक्षा की नींव रखने वाले एवं महान शिक्षाविद महात्मा ज्योतिबा फुले जी की 194वीं जयंती बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनायी गई | कार्यक्रम की शुरुआत महामानव को पुष्पांजलि और भारतीय संविधान की प्रस्तावना से की गयी | श्री अरविन्द प्रसाद, कार्यकारी अध्यक्ष ने आये हुए लोगो का स्वागत करते हुए महात्मा फुले की जन्म दिवस की बधाईयाँ दी और उनके जीवन परिचय को बताया | इस मौके पर कार्यकारिणी के पदधिकरियों में से श्री बलजीत सिंह जी, ऑडिटर  और रामपाल जी, वित सचिव ने फुले जी द्वारा किये गए सामाजिक कार्यों पर प्रकाश डाला |

श्री राजेश यादव और श्री गौरव वर्मा जी ने वर्तमान समय में भी हो रहे सामाजिक भेदभाव पर अपने विचार रखे | इस पावन अवसर पर श्री आर के पाल, पूर्व महासचिव और श्री धनी प्रसाद, पूर्व अध्यक्ष ने भी फुले –अम्बेडकरी विचारधारा के प्रसार और जाति  उन्मूलन में संगठन की भूमिका पर अपने – अपने विचार रखे | धनी प्रसाद जी ने कहा कि लगभग छः हजार जातियों में बाँट कर और हर एक को दुसरे से ऊँचा –नीचा दिखाकर बहुजन समाज को सामाजिक रूप से पिछड़ने के लिए मजबूर किया गया है | श्री आर के पाल जी ने वर्तमान सामंतवादी सोच वाले लोगों द्वारा इस समाज को मुख्यधारा से दूर करने के लिए रोज किये जाने वाले षड्यंत्रों के विषय में विस्तार से बताया गया |

श्री उमाशंकर सिंह, अध्यक्ष ने अपने विचार रखते हुए भविष्य की आने वाली चुनौतियों के लिए संगठन को मजबूत बनाने के लिए अपनी कार्ययोजना बताई ताकि इस वंचित समाज को मुख्यधारा में लाकर एक सुदृढ़ भारत के निर्माण कर फुले अम्बेडकरी समतावादी स्थापित कर बहुजन समाज के नायकों के त्याग और बलिदान को सार्थक बनाया जा सके | इस अवसर पर श्री जीत सिंह और श्री रणजीत सिंह क्रमशः अध्यक्ष व् कार्यकारी अध्यक्ष, आल इंडिया एस सी / एस टी रेलवे एम्प्लाइज एसोसिएशन और श्री ब्रह्मपाल सिंह, पंजाब प्रदेश अध्यक्ष, बामसेफ विशेष तौर पर मौजूद रहे और सभी ने अपने विचार रखते हुए समान विचारधारा वाली संगठनो को मिल कर काम करने पर जोर दिया |

इस अवसर पर ओ बी सी रेलवे एम्प्लाइज एसोसिएशन द्वारा प्रकाशित बहुजन नायकों के जीवन परिचय पर किताब “सामाजिक क्रांति के अग्रदूत” (हिंदी भाषा) और श्री जीत सिंह, अध्यक्ष, आल इंडिया एस सी / एस टी रेलवे एम्प्लाइज एसोसिएशन द्वारा लिखित किताब “बहुजन क्रांति के मोडी” (पंजाबी भाषा) का विमोचन भी किया गया | कार्यक्रम के अंत में श्री अशोक कुमार, महासचिव ने बताया कि महात्मा फुले जी ने उस समय की विषम परिस्थितियों और सामाजिक बहिष्कार के बावजूद अपने पथ पर अडिग रहे जो आज भी हमारे पथप्रदर्शक है |

साथ ही उन्होंने आये हुए लोगो का धन्यवाद किया | मंच संचालन का कार्य श्री भूपेंद्र जी, संगठन सचिव ने किया | इस कार्यक्रम को सफल बनाने में श्री कुलदीप चंद, योगेन्द्रपाल, लालेश्वर प्रसाद, सुशील कुमार, अजित कुमार, संजीव कुमार, प्रदीप कुमार, राजेंद्र कुमार, मनोज राय, ज्योतिष राय, होशियार सिंह, संदीप कुमार और कार्यकारिणी के समस्त लोगों ने अपनी विशेष भूमिका निभाई |