डॉ. बाबासाहब अंबेडकर स्मारक का भूमिपूजन संपन्न

(समाज वीकली)- डॉ. बाबासाहब अंबेडकर स्मारक समिति पुलगांव द्वारा इंटरनेशनल बुद्धिस्ट मिशन ट्रस्ट जालंधर पंजाब द्वारा संचालित बोधिसत्व डाॅ. बाबासाहब अंबेडकर पब्लिक स्कूल गुंजखेड़ा पुलगांव के प्रांगण में दिनांक 03 फरवरी 2021 को सुबह 11. 30 बजे, डाॅ. बाबासाहब अंबेडकर स्मारक का भूमिपूजन संपन्न हुआ.

25 अप्रैल 1954 को डॉ. बाबासाहब अंबेडकर का पुलगांव मे प्रथम आगमन हुआ था. उस घटना को आज तकरीबन 67 वर्ष होने जा रहे है, उस घटना की याद में पुलगांव नगरी में डाॅ. बाबासाहब अंबेडकर का एक उचित स्मारक होना चाहिए ऐसा स्मारक समिति के सदस्यों का मानस था. उस मानस की फलश्रुती है कि आज स्मारक का भूमिपूजन संपन्न हुआ.

आदरणीय धम्मगुरु भदंत विनय बोधीप्रिय और कुलदीप रामटेके के करकमलों द्वारा स्मारक का भूमिपूजन संपन्न हुआ, साथ ही ” स्मृतिशेष. कैलास गोमाजी वानखेडे ” के स्मृति में एक अध्ययन कक्ष का लोकार्पण स्नेहा मोटघरे, वर्षा दिवे, डाॅ. ज्योती पान्हेकर और कुलदीप रामटेके द्वारा किया गया.

इस उपलक्ष्य में एक सत्कार समारोह का आयोजन भी किया था. जिसमें धम्मगुरु भदंत विनय बोधीप्रिय ने अपनी धम्म देसना में कहाँ की ” तथागत भगवान बुद्ध के काल में दान का जो महत्व था वह आज भी कायम रहना चाहिए. सामुहिक दान के माध्यम से ही स्मारकों का निर्माण, अध्ययन कक्ष और ग्रंथालयों का निर्माण किया जाना चाहिए क्योंकी हमेशा सरकार पर आश्रित नहीं रहना चाहिए. इसलिए लोगोंने समाजोपयोगी कार्यो के लिए दान देना चाहिए. आपके दान के माध्यम से ही समाज को उन्नतशिल बनाया जा सकता है. दान एक “सृजनात्मक प्रवृत्ति” बननी चाहिए. अनाथपिंडक तो बहुत बड़े दान दाता थें और महानायक सम्राट अशोक को तो धम्म का ” दायाद ” कहा जाता है, क्योंकि उन्होंने अपने पुत्र महेन्द्र और पुत्री संघमीत्रा को संघ में दान दिया था. जिनके करकमलों द्वारा स्मारक का भूमिपूजन संपन्न हुआ वह इंजीनियर कुलदीप रामटेके ने अपने वक्तव्य में कहा कि “अब इस स्मारक के माध्यम से पुलगांव शहर को एक नयी पहचान मिलेगी क्यों की इस स्मारक भवन में सिर्फ डॉ. बाबासाहब अंबेडकर का ही पुतला पुतला नहीं लगेगा अपितु तथागत भगवान बुद्ध और महानायक सम्राट अशोक का भी पुतला स्थापित किया जाएगा जो की हम सभी के प्रेरणास्रोत हैं.

इस कार्यक्रम में बतौर प्रमुख अतिथि उपस्थित थें. स्वागताध्यक्ष दिलिप वावरे, आर्किटेक्ट जी. एच. मुन, बैंक आॅफ महाराष्ट्र अमरावती विश्व विद्यालय ब्रांच के प्रबंधक अश्विन जांभुलकर, स्नेहा मोटघरे, डाॅ. विजय माहुरे, डाॅ. सुभाष खंडारे.

इंटरनेशनल बुद्धिस्ट मिशन ट्रस्ट जालंधर पंजाब के चेयरमैन सोहनलाल गिंडा जो की स्कॉटलैंड में रहते हैं उनका संदेश और डॉ. बाबासाहब अंबेडकर स्मारक समिति पुलगांव के अध्यक्ष विजय मेश्राम का लाइव संदेश सुनाया गया.

इस अवसर पर सोहनलाल गिंडा, बी. डी. गिंडा, मुल्कराज गिंडा, और दिवान महेन्द्र सभी स्कॉटलैंड में रहते हैं उनके साथ साथ दिलिप वावरे, लता एवं चंद्रसेन डोंगरे, डाॅ. जी. डी. अलोने, मंजुषा नांदुरकर, सदानंद टवळे, राजकुमार बेलसरे, भारत रंगारी, रितेश भोंगाडे, रविंद्र दुर्गे, नंदकिशोर पाढेन, प्राध्यापक. आर. डी. वरघट, बुद्धघोष मिरगे, हरिदास दुबे, अश्विन आशलेषा विनय पाटील, डाॅ. विजय माहुरे और डॉ. मंदा माहुरे ने स्मारक के लिए डॉ. बाबा साहब अंबेडकर का सात फिट उंचा पुतला देने की घोषणा की.

इसी कार्यक्रम में मान्यवरों के द्वारा “बुद्धिस्ट फेस्टिवल 2020” इस स्मारिका का विमोचन भी किया गया.

इस कार्यक्रम की प्रस्तावना आयोजन समिति के सचिव चंद्रसेन डोंगरे ने की, कार्यक्रम का सुत्रसंचालन आकाशवाणी नागपुर के वरिष्ठ उदघोषक अशोक जांभुलकर ने की और आभार प्रदर्शन डाॅ. विजय माहुरे ने किया. कार्यक्रम में ट्रस्ट के सभी सदस्यों के साथ-साथ सम्माननीय नगरजन भी बड़ी संख्या में उपस्थित थें.